हिंदी संस्करण
समाचार

हमारे सपने टूट गए : अफगानी महिलाएं

person access_timeAug 16, 2021 chat_bubble_outline0

एजेंसी। अफगानिस्तान के विद्रोही समूह तालिबान के सत्ता कब्ज़ा करने के बाद अफगानी महिलाएं चिंतित हैं।

सं 2001 में अमेरिका के नेतृत्व में अफगानिस्तान पर हुए हमले के बाद अफगानिस्तान से तालिबान को सत्ता से हटाया गया था। तालिबान की सत्ता हटाने के बाद अफगानी महिलाओं ने स्वतंत्रता की अनुभूति की थी।
पुनः तालिबान के द्वारा सत्ता पर कब्ज़ा किये जाने के बाद बल्ख प्रान्त की जेब हनीफा (परिवर्तित नाम) ने अब अफगानी महिलाओं के सपने टूटने की बात बताई है। उन्होंने सं 2013 में अपनी कॉलेज की पढाई पूरी की। पढाई ख़त्म करने के बाद पीआर कंसल्टेंट और लेखिका के रूप में काम करना शुरू किया था। पहली बार नौकरी करने पर उन्हें ऐसा लगा की मानों उनके पंख निकल आए हों।

खुद के नौकरी करने के बाद बचाये हुए पैसों से उन्होंने विदेश यात्रा की, उन्होंने बीबीसी को बताया। उन्होंने बहार निकलकर काम करने के क्रम में बहुत सारी नई नई बातों को सीखने नए नए अनुभव करने का मौका पाया, बताया।

कमेन्ट

Loading comments...