हिंदी संस्करण
समाचार

पूर्व माओवादी नेताओं के रिट निवेदन पर आज भी नहीं हुई सुनवाई

person access_timeJul 30, 2021 chat_bubble_outline0

रातोपाटी संवाददाता
काठमांडू। पूर्व माओवादी नेताओं ने खुद पर पार्टी के द्वारा की गई कार्रवाही को चुनौती देते हुए सर्वोच्च अदालत में दायर की गई रिट निवेदन की सुनवाई स्थगित हुई है।

शुक्रवार न्यायाधीश आनंद मोहन भट्टराई की बेंच में पेशी को तय किये जाने पर भी रिट निवेदक पक्ष के कानून व्यवसायी की मांग के अनुसार पेशी को स्थगित किये जाने की जानकारी सर्वोच्च अदालत द्वारा दी गई है।

पूर्व माओवादी नेता लेखराज भट्ट, टोप बहादुर रायमाझी, प्रभु साह तथा गौरीशंकर चौधरी ने सांसद के रूप में कायम ही रहने के लिए मांग दावे के साथ रिट निवेदन दिया था।

इस रिट निवेदन की गुरुवार न्यायाधीश दीपक कुमार कार्की की एकल बेंच में पेशी रखी जाने पर भी 'हेर्न न भ्याइने'  (देखने का समय नहीं) सूची में पड़ी थी।

इन चारों पूर्व माओवादियों को एमाले में प्रवेश करने की बात कहते हुए माओवादी केंद्र ने इनकी दल की सदस्यता को ही बर्खास्त कर दिया था। जिससे उनका सांसद पद भी गुमा था।

इन लोगों के 'हम लोगों के एमाले में प्रवेश न किये होने की अवस्था में पार्टी द्वारा कार्रवाही किये जाने की बात करते हुए उन लोगों ने बुधवार सर्वोच्च अदालत में रिट दायर कराई थी।

कमेन्ट

Loading comments...