हिंदी संस्करण
समाचार

यदि शुगर को नियंत्रित रखना है तो दूर रहें इन चीजों से

person access_timeJul 25, 2021 chat_bubble_outline0

आज के समय में डायबिटीज एक ऐसी बीमारी हो गई है जैसे कि पहले हमारे बचपन के समय सर्दी जुकाम। अभी अगर सर्वे करके देखा जाय तो हर घर में इसके एक आध मरीज तो मिल ही जायेगे। होने को तो मन और जिह्वा ये बड़े चंचल होते हैं जो हमेशा स्वादिष्ट भोजन-व्यंजनों की मांग करते हैं मगर डाइबिटीज एक घातक बीमारी जो कभी भी अकेले नहीं आती अपने साथ अपने इष्ट मित्र लेकर आती है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को अपना ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि शरीर में शुगर लेवल बढ़ने से कई तरह की गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। इनमें हार्ट अटैक, किडनी से जुड़ी बीमारियां, सिरदर्द, वजन घटना, आंखों की रोशनी धुंधली होना, मल्टीपल आर्गन फेलियर, बार-बार पेशाब आना और ज्यादा प्यास लगना शामिल है। ब्लड में शुगर लेवल तब बढ़ता है जब पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बन पाता है। लेकिन, शुगर के मरीज अपने खानपान और लाइफस्टाइल में बदलाव करके इसे कंट्रोल में रख सकते हैं। इसके लिए ये बात ध्यान में रखना जरूरी है कि ऐसी कौन सी चीजें हैं जिन्हें अपने भोजन से अलग रखना चाहिए। इसलिए, आज हम आपको बताएंगे ऐसी चीजें जिन्हें शुगर के मरीजों को खाने से बचना चाहिए।

मैदा

मैदे से बनी चीजों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत ज्यादा होता है। ऐसे में शुगर के मरीजों को मैदा से बनी चीजें खाने से परहेज करना चाहिए। मैदा से बनी चीजों में ब्रेड, पास्ता और फास्ट फूड शामिल है।

तला-भुना खाने से बचें

डीप फ्राइड चीजें में कार्बोहाइड्रेट ज्यादा होता है। डायबिटीज मरीजों को ज्यादा तली-भुनी चीजों का सेवन करने से बचना चाहिए। इनमें फ्राइड चिप्स और पकौड़े जैसी चीज़ें शामिल हैं।

फ्लेवर्ड दही

डायबिटीज मरीजों के लिए यूं तो दही खाना काफी फायदेमंद होता है। लेकिन, फ्लेवर्ड दही आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसमें चीनी की मात्रा काफी ज्यादा होती है। साथ ही ऐसी आर्टिफिशियल चीजें मौजूद होती हैं जो शरीर में शुगर की मात्रा को बढ़ा सकती है।

फुल फैट दूध

डायबिटीज रोगियों को फुल फैट दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसमें सैचुरेटेड फैट की मात्रा ज्यादा होती है। जिसके कारण इंसुलिन की रेजिस्टेंस क्षमता अधिक खराब हो सकती है।

आलू

आलू जहाँ एक ओर स्किन के लिए अच्छा होता है वहीं इसमें विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, विटामिन बी, कॉपर, ट्राइप्टोफैन, मैंगनीज, और ल्यूटिन का भी खूब होता है। लेकिन, इतनी खासियतों के बावजूद शुगर पेशेंट्स के लिए ये नुकसानदायक होता है। इसमें हाई कार्बोहाइड्रेट के साथ ही ग्लाइसेमिक इंडेक्स की मात्रा भी ज़्यादा होती है जो कि आपके ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है।

फ्रूट जूस

फ्रूट जूस की जगह ताजा फलों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। फ्रूट्स में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है। लेकिन फ्रूट जूस में फाइबर की मात्रा कम हो जाती है। पैक्ड जूस में फ्रुक्टोज अच्छी मात्रा में होता है जो आपके शुगर लेवल को बढ़ा सकता है।

फ्लेवर्ड कॉफी

वैसे तो कॉफी पीना डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा होता है, लेकिन फ्लेवर्ड कॉफी उतनी ही नुकसानदायक है। इसमें लिक्विड कार्बस ज्यादा होते हैं जो बॉडी में शुगर बढ़ाने का काम करते हैं। फ्लेवर्ड कॉफी में चीनी इतनी ज्यादा होती है कि अगर इसको लिक्विड डेसर्ट कहा जाए तो गलत नहीं होगा।

कमेन्ट

Loading comments...