हिंदी संस्करण
समाचार

मानसून के मौसम में बच्चों की देखभाल के लिए…

person access_timeJul 01, 2021 chat_bubble_outline0

मानसून आते ही बड़ों के साथ बच्चों को भी इंफेक्शन होने की आशंका अधिक होती है। इस मौसम की मार से बचने के लिए उनके खान पान का खास ख्याल रखने की जरूरत है। अगर वे पेट दर्द की शिकायत करें तो इसकी वजह जानने का प्रयास करें। अगर वे मांस-मछली या अंडे खाते हैं तो इसे पूरी तरह बॉईल करने के बाद ही खिलाएं। उन्हें साइट्रस फ्रूट खाने को दें जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो सके। साइट्रस फूड के तौर पर नींबू पानी या लेमोनेड बनाकर पिलाया जा सकता है।

मानसून में बच्चों के लिए सभी सब्जियों को मिलाकर बनाया गया सूप उपयुक्त है। अपने बच्चे को बार-बार पानी पीने के लिए भी कहें ताकि शरीर से टॉक्सिंस दूर हो सकें। कालीमिर्च, लहसुन और हल्दी को उसकी डाइट में जरूर शामिल करें। ये सभी चीजें इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करती हैं। गर्मागर्म दाल, चीज, घर में बना ताजा दही, पनीर या अंडे भी उसे खाने को दें। इन चीजों में प्रोटीन की अधिक मात्रा होती है जिससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

बच्चों को गले की खराश या दर्द से बचाने के लिए एक पैन में पानी गर्म करें। उसमें हल्दी, मिर्च, कढ़ी पत्ता, दालचीनी और लौंग डालकर उबालें। इसी तरह गर्म दूध में हल्दी, कालीमिर्च, और केसर के कुछ धागे मिलाकर पीने से भी फायदा होता है। बारिश होने की वजह से अगर बच्चे आउटडोर एक्टिविटी नहीं कर पा रहे हैं तो उन्हें इंडोर गेम्स खेलने के लिए प्रेरित करें। घर में रस्सी कूदने के लिए कहें या डांस और एक्सरसाइज करवाएं। उन्हें खेलने के बाद और खाना खाने से पहले हाथों को अच्छी तरह धोना भी सिखाएं ताकि बीमारियों से बचाव हो सके।

कमेन्ट

Loading comments...