हिंदी संस्करण
समाचार

ओली के प्रस्ताव पर माधव नेपाल का जबाव अत्यंत गंभीर : विष्णु पौडेल

person access_timeJun 10, 2021 chat_bubble_outline0

रातोपाटी संवाददाता
काठमांडू। उपप्रधानमंत्री तथा अर्थमंत्री विष्णु पौडेल ने पार्टी के माधव नेपाल, झलनाथ खनाल समूह द्वारा दिए गए जबाव के अत्यंत गंभीर प्रकृति का होने की बात बताई है।

पार्टी अध्यक्ष तथा प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली द्वारा उदार तथा खुले विचारों के साथ किये गए एकता आवाह्न को नेपाल-खनाल समूह पार्टी द्वारा अस्वीकार किये जाने ने पार्टी के एकता के पक्ष में न होने की बात को समझने के लिए बाध्य बनाया।  

पौडेल ने अपनी पार्टी के प्रधानमंत्री को हटाकर विपक्षी दल के व्यक्ति को प्रधानमंत्री बनाने का खेल सफल नहीं होगा, बताया।

पार्टी के आम कार्यकर्ताओं के एकता के पक्ष में होने की अवस्था में नेपाल-खनाल पक्ष द्वारा किसी भी हालत में अन्य दल के व्यक्ति को प्रधानमंत्री बनाने के प्रयत्न में लगना, अपनी जिद से पीछे हटना न चाहना पार्टी एकता के लिए घातक है, पौडेल ने कहा। इसी क्रम में पौडेल ने कहा  ऐसे घातक खेल में लगे हुए व्यक्ति तो पार्टी से अलग हो सकते हैं परन्तु पार्टी विभाजित नहीं हो सकती।

संस्थापन पक्ष द्वारा पार्टी एकता के लिए अंत तक कोशिस किये जाने की बात  पौडेल ने बताई। पार्टी के नेता, कार्यकर्त्ता अभी  भी एकता के पक्ष में होने की बात बताते हुए उन्होंने कहा कि विभाजन  की चाह रखनेवालों का कोई भी साथ नहीं देगा। ओली द्वारा एकता का आवाह्न करते हुए 6 सूत्रीय प्रस्ताव को आगे बढ़ाने पर नेपाल द्वारा एक विज्ञप्ति के माध्यम से 6 सूत्रीय जवाबों के साथ ओली से विभिन्न प्रश्न किये थे।

कमेन्ट

Loading comments...