हिंदी संस्करण
समाचार

बालुवाटार में प्रधानमंत्री की ब्रीफिंग : मुल्क गंभीर मोड़ पर

person access_timeNov 05, 2020 chat_bubble_outline0

रातोपाटी संवाददाता
काठमांडू। प्रधानमंत्री केपी शर्म होली ने सरकार पर चारों तरफ से हमला हो रहे होने की बात कहते हुए सरकार को काम करने न देके मुल्क को गंभीर मोड़ पर लाकर खडे कर देने की बात कही है।  

गुरुवार बालुवाटार में हुई मंत्री परिषद की बैठक में प्रधानमंत्री ओली ने मंत्रियों को ब्रीफिंग करते हुए सरकार पर पार्टी के अंदर तथा बाहर दोनों ओर से हमला होने के कारन जो सोचा था वैसा काम नहीं कर सकने की बात की।  

'पार्टी के अंदर से भी सहयोग नहीं मिला। घेराबंदी की जाती है, इस्तीफ़ा माँगा जाता है। काम करने नहीं दिया जाता। परन्तु फिर भी मैं इस्तीफ़ा देने के पक्ष में नहीं हूँ। किसी भी हालत में मैं पीछे नहीं हटूंगा, ओली की बात को उद्धृत करते हुए एक नेता ने रातोपाटी से कहा- 'पार्टी के अंदर से असहयोग होने पर जितना सोचा था उतना काम नहीं किया जा सका। अस्थिरता को न्योता देने का काम ही किया गया। जिसके कारन अभी मुल्क ही गंभीर खतरे में हैं।'

गुरुवार मंत्री परिषद की बैठक में खास ही कोई महत्वपूर्ण निर्णय न होने पर भी प्रधानमंत्री ओली ने लम्बा ही पुराना वचन किया एक अन्य मंत्री ने बताया। 'खास ही वैसा कोई भी निर्णय तो नहीं हुआ किन्तु प्रधानमंत्री ने सम सामायिक विषय पर अपने विचारों को रखा। खास में उन्होंने अपने इस्तीफे को मांगे जाने से अस्थिरता को न्यौता देने का काम हुआ है कहते हुए ब्रीफिंग की। यही सब सुनकर हम लौटे हैं।' उन मंत्री का कहना था। 

कमेन्ट

Loading comments...