हिंदी संस्करण
समाचार

गंडकी प्रदेश में भूस्खलन से 7 लोगों की मौत, 9 लोग लापता

person access_timeJul 10, 2020 chat_bubble_outline0

रातोपाटी संवाददाता
काठमांडू। गुरुवार सिंधुपालचौक में आई बाढ़ के बितण्डा से 2 लोगों की मौत और 20 लोगों के लापता होने की दुखद खबर अभी सह भी नहीं पाए थे कि शुक्रबार फिरसे गण्डकी प्रदेश में जगह जगह पर हुए स्खलन से धन जन कि अत्यधिक क्षति होने के दुखद समाचार आ रहा हैं। प्राप्त जानकरी के अनुसार प्रदेश के म्याग्दी, कास्की और लमजुंग में भूस्खलन से 7 लोगों कि मृत्यु होने तथा 20 लोगों के लापता होने का समाचार है।  
इतना ही नहीं जगह जगह पर भूस्खलन होने से सड़कें भी अवरुद्ध हुई हैं।  

अविरल वर्षा के कारण होने वाले भूस्खलन कि चपेट में आने से पोखरा के विभिन्न स्थानों में 4 लोगों कि मौत होने के समाचर हैं। पोखरा महानगरपालिका- 18 सारंगकोट गोठडी स्थित टंक बहादुर थापा के घर के ऊपर से गिरे पहाड़ स्खलन के मलबे में दब जाने से 3 लोगों कि मौत हुई हैं। इस घटना से जान तो बची पर घायल हुए 6 लोगों का उद्धार करके उन्हें उपचार हेतु मणिपाल शिक्षण अस्पताल और पश्चिमांचल अस्पताल ले जाये जाने की खबर जिला प्रहरी कार्यालय के प्रवक्ता प्रहरी नायब उपरीक्षक सुवास हमाल ने जानकारी दी है।  

उन्होंने बताया कि - 'थापा के घर में गुरुवार जन्मदिन होने के कारण जन्मदिन मनाने के लिए वहां पर कितने लोग इकट्ठे थे, वे कौन कौन थे इसका खुलासा अभी तक नहीं हो पाया है। पुलिस और स्थानीय लोगों द्वारा घायलों का उद्धार किया गया था।’

इसी तरह पोखरा महानगरपालिका- 25 हमजा में रामचंद्र अधिकारी के घर के मलबे में दबजाने के कारण अधिकारी कि 70 वर्षीया मान भीमकाली अधिकारी कि घटनास्थल में ही मौत हो गई, पुलिस ने बताया।

पोखरा- 18 छोरेपाटन, सिमलटुंडा में चंद्र बहादुर मगर का घर भी ऊपर से आये स्खलन के मलबे में पडकर उनकी पत्नी शांति तथा बेटा सुषेण भी घायल हुए हैं। उन लोगों का नमस्ते अस्पताल में उपचार हो रहा है, हमाल ने जानकारी दी। अविरल वर्षा के करण पोखरा के रामघाट स्थित सेती नदी के बंद हो जाने से (सुकुमवासी) गरीबों-असहायों की बस्ती डूबने के कगार पर है इसके कारण रात में ही माइकिंग करके स्थानीय लोगों को अन्य किसी सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है।  

लगातार वर्षा के साथ भूस्खलन होने से मयांगदी कि धौलागिरी गांवपालिका- 6 मरांग के रिखा नामक स्थान पर 9 लोगों के लापता होने की भी खबर है। घण्टीबांग नामक स्थान पर भूस्खलन से दो परिवारों के 9 लोगों के लापता होने की जानकारी आने की बात पुलिस ने बताई है।  
इसी तरह मरांग के ही कॉलेनी के 'धारखोला' में आई बाढ़ ने दो घरों को बहा दिया।

कमेन्ट

Loading comments...