हिंदी संस्करण
समाचार

अब देश में एक नई समस्या -टिड्डी का प्रकोप

person access_timeJun 29, 2020 chat_bubble_outline0

काठमांडू। कुछ समय पहले भारत के विभिन्न प्रांतों में टिड्डी का प्रकोप फैला था। अब इस टिड्डी दल ने भारत से नेपाल का रुख किया है। नेपाल के विभिन्न जिलों में इसका आतंक सा छा रहा है। अब ये स्यांगजा में भी दिखाई पड़ा है। जिले के कालीगण्डकी गांवपालिका में इस कीड़े के दिखाई पड़ने से किसान चिंतित हैं।  

गांवपालिका के विभिन्न स्थानों में इसके दिखाई पड़ने के बाद गांवपालिका के अध्यक्ष कहीं बहादुर थापा ने एक विशेष योजना बनाकर इन टिड्डियों को मारने वालों को पारिश्रमिक अथवा पुरस्कार जो भी कहें -एक किलो के लिए 1 सौ रुपये देने का निर्णय किया है। अध्यक्ष थापा ने बताया कि किसानों की बाली, उनके अनाज की रक्षा के उद्देश्य से ऐसा निर्णय लिए जाने की बात बताई। उन्होंने कहा- ''अगर जल्दी ही टिड्डी दल पर नियंत्रण पाया न जा सका तो ये सारी फसल को समाप्त कर देगा और खाद्यान्न की समाया हो जाएगी इसलिए किसानों को जागरूक करने तथा फसल की रक्षा करने के उद्देश्य से इस कीड़े को मरनेवालों को पैसा देने का निर्णय किया है।''

सांझ गांवपालिका के आलमदेवी, बांसटारी, गुरुंगदी मसतुका, खोरबारी, छाप आदि स्थानों में इस कीड़े के दिखाई देने की बात गांवपालिका ने बताई है। स्थानीय लोगों ने खेती को बचाने और कीड़े को भगाने के लिए आग जलाकर तथा थाली बजाकर इसे भगाने का काम शुरू किया है एक स्थानीय विष्णु न्यौपाने ने बताया। इसी तरह हरिनास गांवपालिका के चित्रे नामक स्थान पर भी इसके दिखाई पड़ने की बात गांवपालिका उपाध्यक्ष झानमय पराजुली ने बताई।

कमेन्ट

Loading comments...