हिंदी संस्करण
समाचार

खुद को प्रधानमंत्री के पद से हटाने के लिए खुद जुटे हैं : प्रकाश चंद्र लोहनी

person access_timeJun 29, 2020 chat_bubble_outline0

रातोपाटी संवाददाता
काठमांडू। राप्रपा अध्यक्ष प्रकाश चंद्र लोहनी ने प्रधानमंत्री पद से स्वयं को हटाने के लिए केपी शर्मा ओली खुद ही जुटे हैं। रविवार नेपाल का नया नक्शा बनाये जाने के कारन मुझे हटाने के लिए स्वदेशी तथा विदेशी दोनों ही मिलकर प्रयत्नरत हैं, उन्होंने बताया था।  

इस बारे में जबाव देते हुए लोहनी ने सोशल मीडिया पर लिखा है- '' विदेशी तथा स्वदेशी मिलकर नेपाल के नए नक़्शे के बनाये जाने को लेकर आपको पद से हटाने के प्रयास में लगे हैं आपके द्वारा लगाया गया ये आरोप पढ़ा। आपका विश्लेषण गलत है क्योंकि अपने आपको पद से हटाने के लिए आप खुद ही दल-बल के साथ जुटे हैं। एक बार शांत होकर खुद को ही देखें सब जान जायेंगे।''

ठीक बात में जनता तथा दल ने आपका सदा ही साथ दिया है। आपने भद्र-भला आदमी जैसा विपक्ष पाया है। नक़्शे के सम्बन्ध में आपकी पार्टी, विपक्ष तथा जनता सबका साथ आपको मिला है। विचार कीजिये यदि किसी विदेशी का मुख देखा था तो ये एकता संभव न होती। उन्होंने लिखा है- ''संसद से सीमा सम्बन्धी प्रस्ताव निर्विरोध पारित नहीं होता। ये सब कुछ देखने के बाद भी औरों को विदेशियों द्वारा संचालित कहना आपके आलावा इस देश में और कोई भी देश भक्त नहीं है, कहना है। अपनी इस बात से आप सभी नेपालियों का अपमान कर रहे हैं। अपने आलावा और सभी विदेशियों द्वारा संचालित हैं, ये मानना, ये दृष्टिकोण आपकी कमजोर और हताश मनः स्थिति का परिचायक है।''

लोहनी के अनुसार श्री 3 शैली का अधिनायकवादी और सर्व सत्तावादी सरकार, भ्रष्टाचार को राजनीति का प्रमुख अंग समझनेवाली प्रवृत्ति और अपने चट्टे बट्टों को देश की जितना लूट सकते हो लूटो कहकर छूट देनेवाली आपकी नव सामन्ती प्रवृत्ति के कारण प्रधानमंत्री का विरोध हो रहा है।  

लोहनी के अनुसार प्रधानमंत्री के शुभ चिंतक भी इस निष्कर्ष पर पहुँच चुके है कि ओली से देश नहीं चलेगा।  

कमेन्ट

Loading comments...