हिंदी संस्करण
विश्व / समाचार

भारत दौरे पर धार्मिक स्वतंत्रता का मुद्दा उठाएंगे ट्रंप: अधिकारी

person access_timeFeb 22, 2020 chat_bubble_outline0

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम दो दिवसीय भारत दौरे पर आ रहे है। बहुप्रतिक्षीत ट्रम के उस यात्रा को लेकर भारत उत्साहीत है और अपने तैयारी मे जुटी है। इधर वाइट हाउस के अधिकारीओं का अनुसार राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने धार्मिक स्वतंत्रता का मुद्दा उठाने की संभावना हैं। वाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि दुनिया धार्मिक स्वतंत्रता कायम रखने के लिए भारत की तरफ देख रही है।

 

वाइट हाउस के अधिकारी ने कहाना है, भारत धार्मिक और भाषायी रूप से समृद्ध और सांस्कृतिक विविधता वाला देश है। अमेरिका के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल चुनाव जीतने के बाद अपने पहले भाषण में इस बारे में बात की थी कि वो भारत के धार्मिक अल्पसंख्यकों को साथ लेकर चलने को प्राथमिकता देंगें और निश्चित तौर पर दुनिया की निगाहें कानून व्यवस्था के तहत धार्मिक स्वतंत्रता बनाए रखने और सभी के साथ समान व्यवहार करने के लिए भारत पर टिकी है।'

 

वाइट हाउस के अधिकारी ने पत्रकारों बताया, 'अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प अपने सार्वजनिक और निजी, दोनों भाषणों में हमारी साझा लोकतांत्रिक परम्परा और धार्मिक आजादी के बारे में बात करेंगें। वो इन मुद्दों को उठाएंगें। खासतौर से धार्मिक आजादी का मुद्दा, जो इस प्रशासन के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।'

 

ट्रंप के भारत दौरे को लेकर वाइट हाउस के अधिकारी से पूछा गया था कि क्या संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) या एनआरसी पर ट्रंप की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने की योजना है। इस पर वाइट हाउस के अधिकारी ने बताया, 'हमारी सार्वभौमिक मूल्यों, कानून व्यवस्था को बरकरार रखने की साझा प्रतिबद्धता है। हम भारत की लोकतांत्रिक परम्पराओं और संस्थानों का बड़ा सम्मान करते हैं और हम भारत को उन परम्पराओं को बरकरार रखने के लिए प्रेरित करते रहेंगें।'

कमेन्ट

Loading comments...