हिंदी संस्करण

आज युगकवि सिद्धिचारण श्रेष्ठ की 109वीं जन्म जयंती

person access_timeMay 22, 2020 chat_bubble_outline0

काठमांडू। आज (शुक्रवार) युग कवि सिद्धिचरण श्रेष्ठ की 109वीं जन्मजयंती है। विसं 1969 साल जेठ 9 गते आज के ही दिन कवि सिद्धिचारण श्रेष्ठ का जन्म पूर्बी नेपाल के ओखलढुंगा में हुआ था। वे नेपाली साहित्य में स्वछंदतावादी काव्यधारा के प्रवर्तक माने जाते हैं। इस लाँकडाउन के कारण उनकी जन्म जयंती को औपचारिक रूप में न मना सकने की बात उनके पुत्र रवि चरण श्रेष्ठ ने बताई। उनके परिवार द्वारा काठमांडू के न्यूरोड स्थित धर्मपथ में अवस्थित उनकी प्रस्तर मूर्ति पर माल्यार्पण करके उनकी जन्म जयंती को मनाया गया।


सिद्धि चरण श्रेष्ठ नेपाली साहित्य में युगकवि और नेपाली भाषा में कविरत्न के रूप में जाने जाते हैं। युग कवि श्रेष्ठ ने अपने जीवन काल में साढ़े छह दशक लम्बी साहित्य साधना के क्रम में फुटकर कविता, गीत, खंडकाव्य, नाटक, पद्मनाटक, कथा, निबंध, समालोचना, यात्रा संस्मरण आदि विधाओं में अपनी सुकोमल सफल लेखनी चलाई।


उनके- मेरो प्यारो ओखलढुंगा, निर्झर, भीमसेन थापा, शबरी, जुनकीरी आदि मर्मस्पर्शी रचनाएँ सर्वाधिक चर्चित हैं। उनके कविता संग्रह- मेरो बिम्ब, कोपिला, कुहिरो र घाम आदि खंड काव्य-उर्वशी, ज्यानमारा, शैल, आँसू आदि हैं। युग कवि श्रेष्ठ का निधन विसं 2049 साल जेठ 22 गते हुआ था।

कमेन्ट

Loading comments...