हिंदी संस्करण
कोरोना वायरस

क्वारेंटाइन के लिए होटल और रिसोर्ट का उपयोग

person access_timeMay 22, 2020 chat_bubble_outline0

रासस
काठमांडू। विदेशों से लौटनेवाले नेपाली नागरिकों को रखने के लिए आवश्यक क्वारेंटाइन व्यवस्थापन के लिए होटल और रिसोर्ट को उपयोग में लाये जाने की जानकारी मिली है। शहरी विकास मंत्रालय में गुरुवार को हुई चर्चा में राज्य मंत्री रामबीर मानन्धर ने देश भर के व्यवस्थित चले हुए होटल तथा रिसोर्ट में क्वारेंटाइन बनाने के सम्बन्ध में परामर्श की प्रक्रिया चल रही है।

 

उनके अनुसार अभी काठमांडू घाटी में 518 शय्या तैयार अवस्था में हैं। और पूरे देश में 65 हजार क्वारेंटाइन तैयार अवस्था में होने की बात बताते हुए उन्होंने बताया की 25 हजार लोग अभी क्वारेंटाइन में हैं।


देश भर के क्वारेंटाइन व्यवस्थापन और सहजीकरण की जिम्मेदारी में रहनेवाले मंत्री मानन्धर ने देश पर संकट होने के समय बड़े बड़े होटलों को क्वारेंटाइन बनाने के लिए सरकार ने पहल की है, बताते हुए उन्होंने लोगों से सहायता की अपेक्षा की है।


मंत्री मानन्धर ने बताया कि वर्तमान में खाली पड़े इन होटलों को सरकार द्वारा निश्चित रकम भुक्तान करके इन्हें जनता की जीवन रक्षा के हेतु में प्रयोग किया जा सकेगा। विदेशों में विपत्ति की मार खा रहे नेपाली नागरिकों को सरकार के द्वारा वापस लाये जाने की स्थिति में, काठमांडू घाटी में आवश्यक क्वारेंटाइन के लिए पूर्व तयारी किये जाने की बात बताते हुए कहा कि खाड़ी देशों में रोजगार के लिए गए हुए सर्वसाधारण अभी सरकार कि सर्वप्रथम प्राथमिकता के अंतर्गत हैं। हवाई मार्ग से लौटनेवालों के लिए घाटी में क्वारेंटाइन बनाने और सम्बंधित स्थानीय श्रेणी के द्वारा व्यवस्थापन के बारे में सरकार द्वारा चर्चा कि जा रही है, राज्य मंत्री मानन्धर ने बताया।


कुछ स्थानों में क्वारेंटाइन में कमी कमजोरियां देखी गई जिसके तुरंत ही सुधार के लिए सरकार द्वारा आवश्यक समन्वय किये जा चुकाने कि जानकारी मानन्धर ने दी। क्वारेंटाइन व्यवस्थापन का खर्च संघीय सरकार के द्वारा किया जायेगा अतः आश्वस्त भाव से इसके व्यवस्थापन में लगाने का राज्य मंत्री ने लोगों से आग्रह किया।

 

क्वारेंटाइन व्यवस्थापन तथा सहजीकरण कि जिम्मेदारी करनेवाले दूसरे राज्यमंत्री नवराज रावत ने सरकार द्वारा बनाये गये मापदंडों को अनिवार्य रूप में पालन करने के लिए स्थानीय सरकार से आग्रह किया। दार्चुला, बांके, बर्दिया, जुमला, बाजरा, परसा, कैलाली और कंचनपुर आदि जिलों में भारत से आये सर्वसाधारण के व्यवस्थापन में समस्या दिखाई देने पर भी राज्यमंत्री ने व्यवस्थापन में कमजोरी होने न देने का आश्वासन दिया।


कार्यक्रम में संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव केदार बहादुर अधिकारी ने क्वारेंटाइन व्यवस्थापन, कार्यविधि का पालन करने पर समस्या न आने कि बात कहते हुए बजट व्यवस्थापन में देखा पड़नेवाली समस्या के समाधान के लिए अर्थ मंत्रालय से आग्रह किया। गृह मंत्रालय के उपसचिव गोमा देवी चेम्जोंग ने कहा- ''क्वारेंटाइन में रखे गए लोगों में अनुशासन कि कमी आदि की समस्याएं दिखाई दी इसलिए इसका आंतरिक व्यवस्थापन नेपाली सेना द्वारा किया जाना अधिक अच्छा होता, उनका कहना  था।। रक्षा मंत्रालय के सह सचिव संत बहादुर सुनार ने क्वारेंटाइन व्यवस्थापन के लिए आवश्यक सभी आर्थिक व्यवस्थापन सब कुछ संघ सरकार के द्वारा किया जायेगा बताया।

कमेन्ट

Loading comments...