हिंदी संस्करण

ज्ञानमित्र

जिस महालीला ने ये संसार रचा है वो एक दिन इसे नष्ट भी कर देगी - सुशोभित सिंह सक्तावत access_timeमाघ ५, २०७७

भारत के मध्य प्रदेश राज्य के झाबुआ जिले में जन्मे सशक्त युवा हस्ताक्षर है इनकी लेखनी का सम्मोहन कुछ ऐसा है गर एक बार किसीने इनके कुछ लिखे को पढ़ना शुरू किया तो अंत तक पढ़े बिना छोड़ना सम्भव ही नहीं बन पाता है। मैंने सुशोभित के कई लेखो को नेपाली भाषा में रूपांतरित ...

बिहार चुनाव परिणाम मेरी दृष्टि में, हारे तो सिर्फ नीतीश और सोनिया है access_timeकात्तिक २९, २०७७

लगभग सभी राजनीतिक विश्लेषकों, पंडितो, महाघाघ पंडितो, 'प्री पोल' और 'पोस्ट पोल' के हवा हवाई वैज्ञानिकों एवं मोदी विरोध के लिए ही जीवित रह रहे स्वनामधन्य महानुभावो के अनुमान, भविष्वाणी तथा मनगढंत सारे कयासों पर अस्वीकृति का ठप्पा लगते हुए बिहार की...

प्रधानमंत्री निवास में अत्याधुनिक हैलीपैड निर्मित access_timeकात्तिक २८, २०७७

काठमांडू। नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (क्यान) के मापदंड अनुसार प्रधानमंत्री निवास बालुवाटार में अत्याधुनिक हैलीपैड का निर्माण किया गया है। प्रधानमंत्री निवास में हैलीपैड निर्माण का काम संपन्न होने की उनके प्रेस सलाहकार सूर्य थापा ने गुरुवार फेसबुक के माध्यम से ये जानका...

कोरोना से बचाव access_timeचैत १४, २०७६

वर्तमान कोविड-19 महामारी के समय लोग जानवरों को लेकर भी सशंकित और चिन्तित हैं। अनेक लोग आमिष भोजन करते हैं और ढेरों के पास कोई-न-कोई पालतू जीव है। ऐसे में इनसे सम्बन्धित प्रश्नों का मन में उठना स्वाभाविक है। विश्व-स्वास्थ्य-संगठन इस समय पशु-मण्डियों, मांस-मण्डि...

सत्य की खोज में भटकता नायक access_timeचैत ३, २०७६

सत्य की खोज में निकले इस आख्यान के नायक ने न थकने और न रुकने की प्रतिज्ञा ली थी। कहाँ कहाँ नहीं पहुंचा वह, पहाड़ी गुफाओ में, वन जंगल के दुर्गम प्रांतो में ! नदी के किनारे हज़ारो कि मी लम्बी यात्राएं भी की उसने की। पर सभी स्थानों में उसे ‘अपनी तरह के’...

नीद का अंक गणित और बीज गणित access_timeफागुन १७, २०७६

बहुत से लोंगो का प्रश्न होता है हमे कितना सोना चाहिए? प्रश्न निसन्देह महत्वपूर्ण है क्योकि देख्ने मे आया है कि अधिकतर लोगों मे  इसके बारे में बहुत ही अधिक गलतफहमिया व्यप्त है। आज इसी बारे मे कुछ चर्चा - स्लीप आर्किटेक्चर: इस  प्रश्न के  उत्तर  स...

क्या खोया क्या पाया !! access_timeफागुन ११, २०७६

सन्यासी जीवन में पदार्पण के कुछ वर्षो उपरांत एक वैवाहिक कार्यक्रम में उपस्थित होने के बाध्यात्मक समीकरण से स्वयं को पृथक न रख सका। बस कैसे समय गुजरे और मै शोर शराबे से मुक्त हो सकूँ, इसी उधेड़बुन में सिगरेट पे सिगरेट उड़ाए जा रहा था। अचानक एक सूटेड बूटेड युवक...

कविता - बंग सुन्दरी access_timeफागुन २, २०७६

पहली मुलाकात के बाद उसनें 'भैलेन्टाइन डे' पर कार्ड भेज मुलाकात की स्मृतिया ताजी करा दी। एक कवि प्रत्युत्तर मे कविता लिखने के अतिरिक्त और कर ही क्या सकता था ? 22-23 वर्ष पूर्व लिखी गई यह कविता अप्रकाशित थी। अब जब काठमाडूं से हिन्दी मे रातोपाटी ने अपना संस्कर...

विश्व के सबसे महान वैज्ञानिक एडिसन access_timeमाघ २८, २०७६

आज संसार के महान आविष्कारक थामस एल्वा एडीसन का जन्मदिन है। थॉमस एल्वा एडिसन का जन्म 11 फ़रवरी 1847 को हुआ था । एवं उनकी मृत्यु  18 अक्टूबर 1931 में  हुयी थी। एडिसन अपने ज़माने के एक  महान अमरीकी आविष्कारक एवं व्यवसायी थे। एडिसन ने अपने जीवन म...

बन रहा है नया चन्द्रमा access_timeमाघ २५, २०७६

खगोल विज्ञान में रूचि रखने वाले अधिकांश मानवो को विदित ही है कि चन्द्रमा के मामले में प्रकृति ने पृथ्वी के साथ बड़ी नाइंसाफी की है ।वामन ग्रह यम अर्थात प्लूटो के पास ५ चन्द्रमा है । पृथ्वी के अतिरिक्त सौर्यमंडल के किसी भी ग्रह में जीवन नहीं है । जीवनधारिणी पृथ्वी के न...